हसीना तेरे गालों पे #पसीना जब भी आता है

👩हसीना तेरे गालों पे #पसीना जब भी आता है
सही मायने में 🌂🌂 #सावन का महीना तभी आता है|
न जाने साँस चलने को किसने जिंदगी कह दी 🕖
हो जब #जुल्फों की घनी साया 🤘🤘जीना तभी आता है ||
यु तो कहने को दुनिया में मय भी मयकश भी और साकी भी 🥃🥃
लेकिन हो जब सनम की 👁आँख मयखाना पीना तभी आता है||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *